निर्वाचन आयोग ने की राज्यसभा के चुनाव तारीखों का ऐलान।

निर्वाचन आयोग ने की राज्यसभा के चुनाव तारीखों का ऐलान

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

नई दिल्ली – भारत निर्वाचन आयोग ने देश के विभिन्न राज्यों से रिक्त हो रहे राज्यसभा की सीटों के लिये चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है। चुनाव आयोग द्वारा जारी सूचना के अनुसार अब देश के 15 राज्यों की 57 सीटों में 10 जून को एक साथ राज्यसभा चुनाव होगा। इस राज्यसभा चुनाव के लिये 24 मई को अधिसूचना जारी की जायेगी , उम्मीद्वार 31 मई तक अपना नामांकन दाखिल कर सकेंगे। वही 01 जून को नामांकन की स्क्रूटनी की जायेगी। उम्मीद्वारों के नाम वापस लेने की अंतिम तारीख 03 जून होगी। वहीं राज्यसभा के लिये 10 जून को सुबह नौ बजे से लेकर शाम चार बजे तक मतदान होगा और इसी दिन 10 जून को शाम पांच बजे के बाद मतों की गणना करने के बाद चुनाव का परिणाम भी घोषित कर दिया जायेगा। बताते चलें 21 जून से 01 अगस्त 2022 के बीच कई राज्यसभा सदस्यों का कार्यकाल पूरा होने रहा है। देश के 15 राज्यों की 57 सीटें खाली हो जायेंगी। इन खाली सीटों में सबसे अधिक यूपी की 11 सीटों , आंध्रप्रदेश की 04 सीटों , तेलंगाना की 02 सीटों , छत्तीसगढ़ की 02 सीटों , मध्यप्रदेश की 03 सीटों , तमिलनाडु की 06 सीटों , कर्नाटक की 04 सीटों, ओडिशा की 03 सीटों , महाराष्ट्र की 06 सीटों , पंजाब की 02 सीटों , राजस्थान की 04 सीटों , उत्तराखंड की 01 सीट , बिहार की 05 सीटों , झारखंड की 02 सीटों , हरियाणा की 02 सीटों पर मतदान होगा। इससे पहले 31 मार्च 2022 को 06 प्रदेशों के 13 राज्यसभा सीटों के लिये चुनाव संपन्न हुये थे। इनमें 02 सीट के लिये आसाम में , एक सीट के लिये हिमाचल प्रदेश में , तीन सीटों के लिये केरल में , एक सीट के लिये नागालैंड में , एक सीट के लिये त्रिपुरा में और पांच सीट के लिये पंजाब में ये चुनाव हुये थे।

कार्यकाल समाप्ति पर एक नजर

विश्वस्त सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आंध्रप्रदेश एवं तेलंगाना में राज्यसभा सांसदों का कार्यकाल 21 जून को , छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और तमिलनाडु के राज्यसभा सांसदों का कार्यकाल 29 जून को , कर्नाटक के सांसदों का कार्यकाल 30 जून को ,
ओड़िशा के तीन राज्यसभा सांसदों का कार्यकाल 01 जुलाई को , महाराष्ट्र के छह , पंजाब के दो , राजस्थान के चार , उत्तरप्रदेश के 11 और उत्तराखंड के एक राज्यसभा सांसद का कार्यकाल 04 जुलाई को , बिहार के 05 और झारखंड के दो राज्यसभा सांसदों का कार्यकाल 07 जुलाई को , हरियाणा के राज्यसभा सांसद का कार्यकाल 01 अगस्त को समाप्त हो रहा है।

कार्यकाल समाप्त होने वाले सांसदों की सूची

आंध्रप्रदेश से प्रभु सुरेश प्रभाकर, टीजी वेंकटेश, यालामनचिल्ली सत्यनारायण चौधरी, वेणुमबाका विजय साई रेड्डी। तेलंगाना से – लक्ष्मीकांत राव वोडितेला और श्रीनिवास धरमपुरी। छत्तीसगढ़ से – छाया बाई वर्मा और रामविचार नेताम। मध्यप्रदेश से – विवेककृष्ण तनखा, मोबाशर जावेद अकबर और समपतिया उईके। तमिलनाडु से – टीकेएस एलनगोवन , नवनीतकृष्णन , आरएस भारती , एसआर बालासुब्रमणियन , विजयकुमार और केआरएन राजेश कुमार। कर्नाटक से – केसी राममूर्ति, जयराम रमेश, ऑस्कर फर्नांडीस (13 सितंबर 2021 से खाली है पद) और निर्मला सीतारमण। ओड़िशा से – नेक्कांति भास्कर राव, प्रसन्ना आचार्य और सम्मित पात्रा। महाराष्ट्र से – पीयूष वेदप्रकाश गोयल, पी चिदंबरम, प्रफुल्ल मनोहरभाई पटेल, विकास हरिभाऊ महात्मे, संजय राजाराम राउत और विनय प्रभाकर सहस्रबुद्धे।पंजाब से – अंबिका सोनी और बलविंदर सिंह। राजस्थान से – ओमप्रकाश माथुर, अल्फोंस कन्ननथनम, रामकुमार वर्मा और हर्षवर्धन सिंह डूंगरपुर। उत्तरप्रदेश से – रेवती रमन सिंह उर्फ मणि, सुखराम सिंह, सैयद जफर इसलाम, विशंभर प्रसाद निषाद, कपिल सिब्बल, अशोक सिद्धार्थ, जय प्रकाश, शिव प्रताप, सतीश चंद्र मिश्रा, संजय सेठ और सुरेंद्र सिंह नागर। उत्तराखंड से – प्रदीप टाम्टा। बिहार से – गोपाल नारायण सिंह, सतीश चंद्र दूबे, मीसा भारती, रामचंद्र प्रसाद सिंह और शरद यादव (4 दिसंबर 2017 से रिक्त है पद)। झारखंड से – महेश पोद्दार और मुख्तार अब्बास नकवी। हरियाणा से – दुष्यंत गौतम और सुभाष चंद्र।

Share This News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Covid-19 Updates