26 एवं 27 मार्च को जिला मुख्यालय में आयोजित होने वाले किसान मेले की तैयारियों को लेकर बैठक संम्पन्न

न्यूज लाईव व्यूरो:—

पिथौरागढ़। आगामी 26 एवं 27 मार्च को जिला मुख्यालय में आयोजित होने वाले किसान मेले की तैयारियों के संबंध में मुख्य विकास अधिकारी वन्दना द्वारा मेले की तैयारी हेतु तैनात सभी नोडल अधिकारियों के साथ विकास भवन में एक बैठक आयोजित कर  किसान मेले की तैयारियों की समीक्षा की। सीमक्षा के दौरान मुख्य विकास अधिकारी ने मेले को सफलतापूर्वक संपन्न कराने हेतु समस्त नोडल अधिकारियों को यथासमय सभी तैयारियां पूर्ण करने के निर्देश दिये। उन्होंने मेले में बाहरी जनपदों, प्रदेशों से विभिन्न विशेषज्ञयों, कृषि वैज्ञानिकों तथा विभिन्न कम्पानियों की प्रतिभागियां सुनिश्चित हेतु 12 मार्च तक सभी को आमंत्रित व सूचित करने के निर्देश अधिकारियों को दिये।
मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि अधिक से अधिक कृषकों, काश्तकारों, पशुपालकों आदि को उक्त मेले से अधिकाधिक लाभ मिल सके इस हेतु संबंधित अधिकारी कार्य करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि उक्त मेले का उद्देश्य तभी पूर्ण होगा जब किसान मेले से सीमांत के किसान, काश्तकार आदि लाभ ले सके।  उन्हेांने अवगत कराया कि जनपद पिथौरागढ़ सहित अन्य पहाड़ी जनपदों को कृषि क्षेत्र में नयी तकनीकी की जानकारी देने के साथ ही सरकार की कृषि, औद्यानिक, पशुपालन, मत्स्यपालन आदि क्षेत्रों में संचालित योजनाओं का लाभ दिये जाने हेतु इस किसान मेले का आयोजन किया जा रहा है उन्होंने कहा कि प्रयोगशाला से लेकर खेत तक किसानों को सम्पूर्ण लाभ दिये जाने हेतु किसान मेले में आने वाले विभिन्न कृषि वैज्ञानिकों, विशेषज्ञयों द्वारा किसानों को जानकारी दी जायेगी इसके अतिरिक्त किसानों को नयी कृषि तकनीकी के बारे मे जानकारी देने के साथ ही कृषि यंत्रों व उन्नतशील बीजों के वितरण के साथ ही किसान मेले में किसानों को अनेक प्रकार से लाभान्वित किया जायेगा उन्होंने सभी किसानों से अपील की कि वह इस किसान मेले का अधिकाधिक लाभ लें।
मुुख्य विकास अधिकरी पिथौरागढ़ वन्दना ने अवगत कराया है कि मेला/प्रदर्शनी को कृृषकों हेतु उपयोगी एवं उद्देश्यपूर्ण बनाये जाने हेतु तथा उक्त मेले के सफल एवं सुचारू व्यस्था हेतु विभिन्न समितियों का गठन कर जनपद के समस्त विभागीय अधिकारियों को दायित्व सौंपे गये है जिसमें आयोजन समिति में परियोजना निदेशक, जिला ग्राम्य विकास अभिकरण, मुख्य कृषि अधिकारी, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, मुख्य उद्यान अधिकारी, महाप्रबन्धक जिला उद्योग केंद्र, प्रभागीय परियोजना प्रबन्धक, एकीकृत आजिविका सहयोग परियोजना पिथौरागढ़ को नामित किया गया है, वित्त समिति में मुख्य कृषि अधिकारी, महाप्रबन्धक जिला उद्योग केंद्र, वित्त अधिकारी, सर्व शिक्षा अभियान के अधिकारियों को नामित किये गये है, सफलता की कहानी हेतु जिला विकास अधिकारी, मुख्य कृषि अधिकारी, प्रभागीय परियोजना प्रबन्धक, एकीकृत आजिविका सहयोग परियोजना पिथौरागढ़ को नामित किया गया है, सांस्कृतिक कार्यक्रम संचालन के सफल संचालन हेतु मुख्य शिक्षाधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी, प्रधानाध्यापक देव सिंह इण्टर काॅलेज को नामित किया गया है, मंज सज्जा हेतु उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, जिला सूचना अधिकारी पिथौरागढ़ को नामित किया गया है, स्टाॅल समिति में जिला विकास अधिकारी, मुख्य कृषि अधिकारी, महाप्रबन्धक जिला उद्योग कंेद्र को नामित किया गया है, मीडिया समिति के सफल संचालन हेतु जिला सूचना अधिकारी एवं परियोजना अधिकारी उरेडा पिथौरागढ़ को नामित किया गया है, वी0आई0पी0 व्यवस्था समिति के सफल संचालन हेतु उपजिलाधिकारी, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी पिथौरागढ़ को नामित किया गया है, प्रतियोगिता निर्णायक समिति के सफल संचालन हेतु परियोजना निदेशक, जिला ग्राम्य विकास अभिकरण, मुख्य कृषि अधिकारी, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, मुख्य उद्यान अधिकारी को नामित किया गया है, विपणन संस्थाओं एवं अन्य राज्य के प्रगतिशील कृषकों के समन्वय हेतु समिति में उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, मुख्य उद्यान अधिकारी, प्रभागीय परियोजना प्रबन्धक, एकीकृत आजीविका सहयोग परियोजना पिथौरागढ़ के अधिकारियों को नामित किया गया है। मुख्य विकास अधिकारी ने उक्त समस्त समितियों से आपसी सहयोग व समन्वय बनाते हुए किसान मेला के सफल आयोजन हेतु समस्त तैयारियां समय पर पूर्ण करने के निर्देश दिये है।
बैठक में मुख्य पशुचिकित्साधिकारी डा0 विधासागर कापड़ी, उपमुख्यपशुचिकित्साधिकारी डा0 पंकज जोशी, मुख्य कृषि अधिकारी अमरेन्द्र चैधरी समेत अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Share This News