2022 बीजेपी बनाम आप में होगा चुनावी घमासान,कांग्रेस विकल्प नहीं:आप आदमी पार्टी उत्तराखण्ड।

2022 बीजेपी बनाम आप में होगा चुनावी घमासान,कांग्रेस विकल्प नहीं:आप आदमी पार्टी उत्तराखण्ड

न्यूज होम लाइव नेटवर्क संवाददाता दीपक जोशी 

 

पिथौरागढ,उत्तराखंड में ,2022 के विधानसभा चुनाव को लेकर,आज आम आदमी पार्टी ने सिमलगैर बाजार स्थित कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए,कांग्रेस को आगामी विधानसभा चुनावों में डूबता जहाज बताते हुए कहा कि कांग्रेस के लोग ही कांग्रेस के जहाज को डुबाने में लगे हैं । आप प्रदेश प्रवक्ता सुशील खत्री ने कहा कि खुद को आगामी चुनावों में विकल्प बताने वाली कांग्रेस का जहाज 2022 तक पूरी तरह डूब जाएगा ।
प्रदेश प्रवक्ता खत्री ने कहा, आगामी विधानसभा चुनाव 2022 में चुनावी घमासान बीजेपी और आम आदमी पार्टी के बीच होने वाला है । उन्होंने कहा कि कांग्रेस कोई विकल्प के तौर पर नहीं है । जिस तरह से जनता कांग्रेस को नकार चुकी है और रही सही कसर ,इनके वरिष्ठ नेताओं के आपसी कलह ने कांग्रेस को प्रदेश में किसी भी विकल्प में नहीं रहने दिया। खत्री ने कहा इनके पास आपस की लड़ाई के अलावा कोई विकल्प और मुद्दा नहीं बचा है । कांग्रेस के कई धड हैं जिन्हें जनता और राज्य के विकास से कोई सरोकार नहीं है और दूसरी तरफ आम आदमी पार्टी के बढ़ते जनाधार से ये तय हो गया आगामी विधानसभा चुनाव बीजेपी बनाम आम आदमी पार्टी रहने वाला है ।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की अंदरूनी कलह और आपसी मनमुटाव ने कांग्रेस को रसातल तक पहुंचाने का काम कर दिया है। उत्तराखंड कांग्रेस में इनके वरिष्ठ नेताओं के बीच चल रही नूराकुश्ती को देखते हुए कांग्रेस पर ये कहावत सटीक बैठती है कि हारी हुई टीम, हमेशा आपस मेँ लड़ती है, उन्होंने कहा कि कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के बीच पिछले चुनावी हार को लेकर जो बयान बाजी हो रही है वो अपने आप में हास्यास्पद हैँ ।
कांग्रेस अध्यक्ष, प्रीतम सिंह थराली उपचुनाव में कांग्रेस की हार,पर ठीकरा हरीश रावत के सर फोड़ रहे हैँ..और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, जिस तरह से प्रीतम सिंह के तंज पर नाराजगी के साथ, सभी 60 विधानसभा सीटों पर हार की ज़िम्मेदारी एक बार फिर ले रहे ये जनता सब देख रही है। खत्री ने कहा कि सोशल मीडिया पर इनके अलग अलग धड़ों के समर्थक एक दूसरे से उलझे हैं । इनका आपसी कलह ही सूबे में कांग्रेस का अंत करेगा जिसके लिए सभी कांग्रेसी लगे हैं। प्रवक्ता खत्री ने कहा कि जिस विपक्ष का काम ,सत्ता पक्ष की कमियों को निकालना था वो

2022 बीजेपी बनाम आप में होगा चुनावी घमासान,कांग्रेस विकल्प नहीं:आप आदमी पार्टी उत्तराखण्ड

उत्तराखंड में ,2022 के विधानसभा चुनाव को लेकर,आज आम आदमी पार्टी ने सिमलगैर बाजार स्थित कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए,कांग्रेस को आगामी विधानसभा चुनावों में डूबता जहाज बताते हुए कहा कि कांग्रेस के लोग ही कांग्रेस के जहाज को डुबाने में लगे हैं । आप प्रदेश प्रवक्ता सुशील खत्री ने कहा कि खुद को आगामी चुनावों में विकल्प बताने वाली कांग्रेस का जहाज 2022 तक पूरी तरह डूब जाएगा ।
प्रदेश प्रवक्ता खत्री ने कहा, आगामी विधानसभा चुनाव 2022 में चुनावी घमासान बीजेपी और आम आदमी पार्टी के बीच होने वाला है । उन्होंने कहा कि कांग्रेस कोई विकल्प के तौर पर नहीं है । जिस तरह से जनता कांग्रेस को नकार चुकी है और रही सही कसर ,इनके वरिष्ठ नेताओं के आपसी कलह ने कांग्रेस को प्रदेश में किसी भी विकल्प में नहीं रहने दिया। खत्री ने कहा इनके पास आपस की लड़ाई के अलावा कोई विकल्प और मुद्दा नहीं बचा है । कांग्रेस के कई धड हैं जिन्हें जनता और राज्य के विकास से कोई सरोकार नहीं है और दूसरी तरफ आम आदमी पार्टी के बढ़ते जनाधार से ये तय हो गया आगामी विधानसभा चुनाव बीजेपी बनाम आम आदमी पार्टी रहने वाला है ।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की अंदरूनी कलह और आपसी मनमुटाव ने कांग्रेस को रसातल तक पहुंचाने का काम कर दिया है। उत्तराखंड कांग्रेस में इनके वरिष्ठ नेताओं के बीच चल रही नूराकुश्ती को देखते हुए कांग्रेस पर ये कहावत सटीक बैठती है कि हारी हुई टीम, हमेशा आपस मेँ लड़ती है, उन्होंने कहा कि कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के बीच पिछले चुनावी हार को लेकर जो बयान बाजी हो रही है वो अपने आप में हास्यास्पद हैँ ।
कांग्रेस अध्यक्ष, प्रीतम सिंह थराली उपचुनाव में कांग्रेस की हार,पर ठीकरा हरीश रावत के सर फोड़ रहे हैँ..और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, जिस तरह से प्रीतम सिंह के तंज पर नाराजगी के साथ, सभी 60 विधानसभा सीटों पर हार की ज़िम्मेदारी एक बार फिर ले रहे ये जनता सब देख रही है। खत्री ने कहा कि सोशल मीडिया पर इनके अलग अलग धड़ों के समर्थक एक दूसरे से उलझे हैं । इनका आपसी कलह ही सूबे में कांग्रेस का अंत करेगा जिसके लिए सभी कांग्रेसी लगे हैं। प्रवक्ता खत्री ने कहा कि जिस विपक्ष का काम ,सत्ता पक्ष की कमियों को निकालना था वो आज पूरे चार साल मित्र विपक्ष की भूमिका निभाता रहा और अब चुनावी वर्ष नजदीक है तो अपनी ज़िम्मेदारी को विपक्ष निभाने के बजाय आपसी कलह में उलझ गया। खत्री ने पत्रकार वार्ता में कहा कि जिस पार्टी के नेता अपना घर नहीं संभल रहा वो क्या प्रदेश को संभालेंगे।
उन्होंने आगे कहा की आम आदमी पार्टी के 2022 मेँ सभी 70 सीटों पर चुनाव लड़ने के बाद से ही कांग्रेस सकते में है और बाकी समय पर कांग्रेस के नेताओं की आपसी बयानबाजी कांग्रेस की हताशा और निराशा को दिखाता है जिसे जनता अच्छी तरह जान चुकी है
दीपक जोशी जनपद पिथौरागढ

पूरे चार साल मित्र विपक्ष की भूमिका निभाता रहा और अब चुनावी वर्ष नजदीक है तो अपनी ज़िम्मेदारी को विपक्ष निभाने के बजाय आपसी कलह में उलझ गया। खत्री ने पत्रकार वार्ता में कहा कि जिस पार्टी के नेता अपना घर नहीं संभल रहा वो क्या प्रदेश को संभालेंगे।
उन्होंने आगे कहा की आम आदमी पार्टी के 2022 मेँ सभी 70 सीटों पर चुनाव लड़ने के बाद से ही कांग्रेस सकते में है और बाकी समय पर कांग्रेस के नेताओं की आपसी बयानबाजी कांग्रेस की हताशा और निराशा को दिखाता है जिसे जनता अच्छी तरह जान चुकी है।

Share This News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •