उत्तराखंड राज्य आंदोलनकारी ने भारतीय जनता पार्टी का प्रचार अभियान बताते हुए कहा कि इस यात्रा के कारण उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्र के लोगों को हो रही दिक्कतों को देखते हुए तत्काल इस यात्रा को बंद करने की मांग करते हुए मुख्यमंत्री को पत्र भेजा

रिपोर्ट हरेंद्र बिष्ट।

थराली। विकसित भारत संकल्प यात्रा को उत्तराखंड राज्य आंदोलनकारी ने भारतीय जनता पार्टी का प्रचार अभियान बताते हुए कहा कि इस यात्रा के कारण उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्र के लोगों को हो रही दिक्कतों को देखते हुए तत्काल इस यात्रा को बंद करने की मांग करते हुए मुख्यमंत्री को एक पत्र भेजा हैं।
मुख्यमंत्री को भेजे एक पत्र में राज्य आंदोलनकारी भुपाल सिंह गुसाईं ने कहा है कि संकल्प यात्रा के कारण अधिकांश अधिकारी,कर्मचारी यात्रा में चल रहे हैं। जिससे वें अपने कार्यालयों में नही बैठ पा रहे हैं। जबकि पर्वतीय क्षेत्र के ग्रामीण पूर दिन एवं सैकड़ों रूपए खर्च कर अपने काम करवाने के लिए कार्यालयों में पहुंच रहे हैं तों पता चल रहा है कि अधिकारी, कर्मचारी संकल्प यात्रा में गए हैं।जिस कारण ग्रामीणों को बिना कार्य संपादित किए ही बेरिंग खाली हाथ वापस लौटना पड़ रहा हैं। इस यात्रा के कारण आम जनता को भारी असुविधा हो रही हैं।गुसाईं ने इसे पार्टी का अपना प्रचार बताते हुए तत्काल जनहित में रोकने की मांग की हैं।

Share This News