अमेरिका ने टिकटाक और वीचैट पर लगाया प्रतिबंध,

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

वाशिंगटन — चीन के खिलाफ पूरी दुनियाँ में गुस्सा का शिकार चीनी कंपनियों को भुगतना पड़ रहा है। भारत की कड़ी कार्यवाही के बाद अब अमेरिका ने भी राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा बताते हुये चीन के वीडियो एप टिकटॉक और मेसेजिंग एप वीचैट पर प्रतिबंध लगाने का ऐलान कर दिया है। अमेरिकी वाणिज्य विभाग द्वारा इस बारे में जारी आदेश के मुताबिक 20 सितंबर से वीचैट और टिकटाक की डाउनलोडिंग अमेरिका में बंद हो जायेगी। लद्दाख में भारतीय सैनिकों के साथ भिड़ंत के बाद भारत की सबसे बड़ी कार्रवाही करते हुये पबजी समेत 118 मोबाइल ऐप्‍स को और इससे पहले Tiktok समेत 59 को बैन किया था। अमेरिका ने भारत के बाद चीनी एप्लिकेशन पर बैन लगाने की बात कही थी। गौरतलब है कि अमेरिका से पहले भारत ने इस साल अब तक दो सौ से ज्यादा चीनी एप्स को बैन कर दिया है। अमेरिका के प्रतिबंध पर चीन ने आरोप लगाया है कि अमेरिका उसे परेशान कर रहा है। चीन ने कहा कि वह भी इसके बदले अप्रत्याशित फैसले ले सकता है। चीनी वाणिज्य मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि चीन ने अमेरिका से डराना-धमकाना छोड़ने, गलत कार्यों को रोकने और ईमानदारी से निष्पक्ष और पारदर्शी अंतरराष्ट्रीय नियमों और व्यवस्था को बनाए रखने का अनुरोध किया है। अमेरिका के इस फैसले के खिलाफ टिकटाक कोर्ट पहुंँच चुकी है। टिकटॉक की पेरेंट कंपनी बाइटडांस ने वाशिंगटन फेडरल कोर्ट में बैन लगाने पर डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया और कोर्ट से गुहार लगाई कि टिकटाक पर लगे प्रतिबंध को हटाया जाये।

Share This News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •