लालकुआं में रोटी बैंक के बाद अब कपड़ा बैंक की शुरुआत

गरीबों के लिए मसीहा बनें फिरोज खान,बौबी सम्भल के बाद अब दीपक बत्रा ने पेश की शानदार मिशाल ,जलाया मानवता का दीपक

न्यूज होम लाइव संवाददाता रमाकांत पंत:-

लालकुआं / नैनीताल / जनपद नैनीताल के लालकुआं नगर में रोटी बैंक के बाद अब कपड़ा बैंक की भी शुरुआत हो गई है । गरीबों के लिए मसीहा बने फिरोज खांन ने लगभग ढ़ाई माह पूर्व रोटी बैंक की शुरुवात करके एक अनोखी मिसाल कायम की। वह इस कार्य को बड़ी ही शिद्दत व मनोयोग से कर रहे है। उनके इस नेक काम की सर्वत्र सराहना की जा रही है। रोटी बैंक के बाद अब बुधवार से लालकुआं में नगर के युवा सामाजिक कार्यकर्ता व सभासद दीपक बत्रा ने भी अपने दिवंगत पिताश्री की मधुर स्मृति में कपड़ा बैंक का शुभारंभ कर दिया है उनके द्वारा गरीबों के तन ढ़कने के उद्वेश्य से किया गया यह शानदार कार्य समाज के लिए बेहतर आदर्श है। लगभग ढाई मांह पूर्व लालकुआं नगर निवासी काग्रेंस के नेता फिरोज खान ने नेहा रोटी बैंक की शुरुवात की। गरीबों को भरपेट भोजन उपलब्ध कराने के उद्देश्य से उनके द्वारा शुरु किए गए इस अभियान को तमाम लोगों ने सहयोग देकर आगे बढ़ाया ,इंसानियत का यह शानदार सफर आज शानदार सफलता अर्जित कर चुका है ।पूरे उत्तराखंड राज्य में नेहा रोटी बेैक ने गरीबों को भरपूर भरपेट भोजन करने में एक अच्छा नाम कमाया है फिरोज खांन व उनके युवा सहयोगी इस कार्य में इतना रम गए हैं , कि उन्हें अब गरीबों की मदद के सिवाय और कोई कार्य सुहाता ही नहीं है। इस कार्य के लिए उन्होंने कांग्रेस कमेटी के महामंत्री पद जैसे ओहदे से भी त्याग पत्र दे दिया है। उन्होंने अपनी बहन नेहा की याद में इस बैंक की शुरुआत की नेहा की एक सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी । प्यारी बहन नेहा की यादों के तरानों को सदा सदा के लिए संजोये रखनें के उद्वेश्य से फिरोज ने धरातल पर उतर कर मानवीय फर्ज को एक बेहतर दिशा दी है जो समाज में एक मिसाल बन गई है ।प्रतिदिन शाम को सड़कों के किनारे ,स्टेशन परिसर के आसपास 2 जून की रोटी के आस में बैठे गरीब लोगों के लिए फिरोज व उनके युवा सहयोगी आशा की किरण बन गए हैं। उनके इस पुनीत कार्य में नगर के युवा सामाजिक कार्यकर्ता बॉबी सम्भल, रवि अनेजा, सहित अनेक युवाजन हाथ बटा रहे है। जो कौमी एकता की शानदार मिशाल के साथ भाईचारे को बढ़ावा देते हुए मिल जुलकर गरीब व जरुरत मंद लोगों की निरंतर धरातल पर मदद कर रहे हैं रोटी बैंक के साथ अब इस अभियान में कपड़ा बैंक भी शामिल हो गया है ।बत्रा कपड़ा बैंक के नाम से दीपक बत्रा द्वारा की गयी यह शुरुवात उनके पिता स्व० इकबाल चंद्र बत्रा जी की मधुर स्मृति में उनकी दिव्य प्रेरणा से किया जा रहा सुन्दर मानवीय कार्य है। सामाजिक क्षेत्र में सक्रीय व गरीबों की मदद के लिए सदैव तत्पर दीपक बत्रा सामाजिक सरकारों के प्रति काफी सजग है उनके द्वारा शुरु किये गये इस अभियान का नगरवासियों ने जोरदार स्वागत करते हुए उन्हें शुभकामनाएं दी हैं , कि वे सदा मानवीय मूल्यों की रक्षा में सफल रहते हुए यशस्वी बनें रोटी बैंक वो कपड़ा बैक अब संयुक्त रुप से मिलकर भाईचारे का संदेश देकर इसांनियत का फर्ज मिलकर अदा करेगें।

Share This News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Covid-19 Updates