प्रधानमंत्री मोदी सेना को सौंपेंगे अर्जुन टैंक

प्रधानमंत्री मोदी कल सेना को सौंपेंगे अर्जुन टैंक

न्‍यूज होम लाइव नेटवर्क

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

नई दिल्ली — प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  देश के दो दक्षिणी राज्य तमिलनाडु और केरल के दौरे पर रहेंगे। जहां वे विभिन्न परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे। इस दौरान वे चेन्नई मेट्रो फेस-1 एक्सटेंशन का उद्घाटन करेंगे। इस परियोजना में 3770 करोड़ रूपये की लागत आयी है। वे वाशरमेनपेट से विमको नगर तक 09.05 किलोमीटर लंबे रेल लाइन के विस्तार का उद्घाटन करेंगे। यह लाइन उत्तरी चेन्नई को हवाई अड्डे और चेन्नई सेंट्रल स्टेशन से जोड़ेगा। इसके अलावा वे चेन्नई बीच और एटिपट्टू के बीच 22.1 किलोमीटर लंबी चौथी रेल लाइन का उद्घाटन करेंगे , इसके निर्माण में 293.40 करोड़ रुपये की लागत आयी है। चेन्नई पोर्ट और एन्नोर पोर्ट को जोड़ने तथा चेन्नई और तिरुवल्लुर जिलों से गुजरने वाली इस लाइन के शुरू होने से चेन्नई पोर्ट से यातायात का दबाव कम होगा। इसके साथ ही साथ वे 423 करोड़ की लागत से बने विल्लुपुरम-कुड्डालोर-माईलादुथुराई-तंजावुर तथा माईलादुथुरई-तिरुवरुर सिंगल लाइन खंड पर रेल विद्युतीकरण का भी उद्घाटन करेंगे।वहीं भारतीय सीमाओं को और अधिक मजबूत बनाने और दुश्मनों को मुंहतोड़ जवाब देने की दिशा में एक और बड़ा कदम उठाते हुये पीएम मोदी अत्याधुनिक अर्जुन मुख्य युद्धक टैंक (एमके-1ए) भारतीय सेना को समर्पित करेंगे। बताते चलें कि रक्षा मंत्रालय की बैठक में 118 उन्नत अर्जुन मार्क ए1 टैंक को सेना में शामिल करने का फैसला लिया गया था। इन 118 टैंकों की लागत 8400 करोड़ रुपये है। इन टैंकों के मिलने के बाद भारती सेना जमीन पर पहले से अधिक मजबूत हो जायेगा। वे ग्रैंड एनीकट नहर प्रणाली के विस्तार, नवीनीकरण और आधुनिकीकरण परियोजना का शिलान्यास करेंगे। डेल्टा जिलों में सिंचाई के लिये महत्वपूर्ण इस नहर के आधुनिकीकरण में अनुमानित 2,640 करोड़ रुपये की लागत आयेगी और इससे नहरों की जल वहन क्षमता में सुधार होगा। वे आईआईटी मद्रास के डिस्कवरी परिसर की आधारशिला भी रखेंगे। इसकी लागत करीब एक हजार करोड़ रूपये होगी। इसके अलावा प्रधानमंत्री केरल में भी कई प्रमुख परियोजनाओं का लोकार्पण करेंगे। जिनमें वे देश को बीपीसीएल की प्रोपलीन डेरिवेटिव पेट्रोकेमिकल परियोजना (पीडीपीपी) को राष्ट्र को सौपेंगे। इस कॉम्प्लेक्स में एक्रिलेट्स, ऐक्रेलिक एसिड और ऑक्सो-एल्कोहल का उत्पादन होगा, जो वर्तमान में मुख्य रूप से आयात किया जाता है। इस प्रोजेक्ट के पूरे होने से लगभग 700 से 4000 करोड़ रुपये सालाना की बचत होगी। इस प्रोजेक्ट की लागत 6000 करोड़ रुपये है। वे कोच्चि में विलिंगडन द्वीप समूह में रो-रो वेसल्स भी राष्ट्र को समर्पित करेंगे। इसके तहत भारतीय अंतर्राष्ट्रीय जलमार्ग प्राधिकरण राष्ट्रीय जलमार्ग -3 पर बोलगाटी और विलिंगडन द्वीप के बीच दो नये रोल-ऑन / रोल-ऑफ जहाजों को तैनात करेगा। ये जहाज 6, 20 फीट ट्रक, तीन 20 फीट ट्रेलर ट्रक, तीन 40 फीट ट्रेलर ट्रक और 30 पैसेंजर ले जाने में सक्षम होंगे। वहीं टूरिस्ट को बढ़ावा देने के लिए पीएम मोदी कोच्चि पोर्ट पर अंतर्राष्ट्रीय क्रूज टर्मिनल “सागरिका” का उद्घाटन करेंगे। यह भारत का पहला पूर्ण अंतरराष्ट्रीय क्रूज टर्मिनल है , इसकी लागत 25.72 करोड़ रुपये है। इसके साथ साथ वे मरीन इंजीनियरिंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट विज्ञान सागर, कोचीन शिपयार्ड लिमिटेड का भी उद्घाटन करेंगे। यह एक प्रमुख समुद्री अध्ययन केंद्र है और एक शिपयार्ड के भीतर भारत में एकमात्र समुद्री संस्थान है जिसमें निर्माणाधीन विभिन्न जहाजों पर छात्रों को ट्रेनिंग की सुविधा है। पीएम मोदी कोच्चि पोर्ट में साउथ कोल बर्थ के पुनर्निर्माण की आधारशिला भी रखेंगे। सागरमाला योजना के तहत 19.19 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से इसे दोबारा बनाया जा रहा है।
गौरतलब है कि इस साल मई-जून में तमिलनाडु और केरल में विधानसभा चुनाव होने हैं और भाजपा इन राज्यों में अपने पैर जमाने की तैयारी कर रही है। तमिलनाडु में भाजपा एआईएडीएमके के साथ मिलकर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही है। तो वहीं, केरल में अपने दम पर विधानसभा चुनाव में ताल ठोकेगी।

Share This News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •